आज फिर तुमपे प्यार आया है – Aaj phir Lyrics

आज फिर तुमपे प्यार आया है
आज फिर तुमपे प्यार आया है
बेहद और बेशुमार आया है

आज फिर तुमपे प्यार आया है
आज फिर तुमपे प्यार आया है
बेहद और बेशुमार आया है

तू ही मेरी आवारगी
तू ही दुआ हर शाम की
तू खामखा, तू लाज़मी
तू ही रज़ा, टी ही कमी
और तू ही वो, फिराक़ है जिसको
है सिलसिलों ने मेरे पास लाया

होठों पे तेरे इज़हार आया है
होठों पे तेरे इज़हार आया है
बेहद और बेशुमार आया है

आज फिर तुमपे प्यार आया है
आज फिर तुमपे प्यार आया है
बेहद और बेशुमार आया है

आज फिर तुमपे प्यार आया है
आज फिर तुमपे प्यार आया है
बेहद और बेशुमार आया है

Leave a Comment